JPSC ने घटाया परीक्षा शुल्क, अब 600 की जगह लगेंगे 100 रुपया

JPSC ने घटाया परीक्षा शुल्क, अब 600 की जगह लगेंगे 100 रुपया

झारखंड लोक सेवा आयोग ने परीक्षा शुल्क 600 से घटाकर 100 रूपया कर दिया है। आयोग की तरफ से प्रेस रिलीज जारी करके इसकी जानकरी दी है। सीएम हेमंत सोरेन ने भी इस मामले पर अपनी प्रतिक्रिया दी है।

झारखंड लोक सेवा आयोग की तरफ से प्रेस रिलीज जारी करके कहा गया कि अब परीक्षा शुल्क के रूप में जेनरल, बीसी वन और टू एवं इडब्ल्यूएस उम्मीदवारों को 100 रुपये देने होंगे। वहीं राज्य के एससी, एसटी और आदिम जनजाति के उम्मीदवारों को केवल 50 रुपया आवेदन शुल्क देना होगा।

आयोग की इस फैसले के बाद मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने भी ट्वीट किया और लिखा “घोषणा पत्र मेरे लिए वचन पत्र है। इसे अक्षरसः पालन करने के लिए हम कृतसंकल्पित हैं। चाहे वह JPSC का विषय हो, स्थानीय नीति का विषय हो, आरक्षण बढ़ाने का विषय हो या फिर अनुबंधकर्मियों का विषय- सभी का समाधान मुझे देना है। इसी क्रम में परीक्षा शुल्क में बदलाव का आदेश आपके समक्ष”

वहीं परिवहन मंत्री चंपई सोरेन आयोग की इस फैसले पर कहा कि वादा किया, वादा निभाया… परीक्षा शुल्क में बदलाव… माननीय मुख्यमंत्री हेमंत जी के नेतृत्व में हमारी सरकार, घोषणा पत्र में किये हर एक वायदे को निभाने के लिए कृतसंकल्पित है। JPSC, स्थानीय नीति, आरक्षण बढ़ाने और अनुबंधकर्मियों के मुद्दे पर भी हम गम्भीर है।

वहीं बीजेपी प्रवक्ता प्रतुल शाहदेव ने कहा “आखिरकार सरकार को झुकना पड़ा। बीजेपी इस बात शुरू से मुखर थी कि सरकार अपनी घोषणा से पलटते हुए शुल्क कैसे बढ़ा रही है? जनहित के मुद्दों पर हम हमेशा मुखर रहेंगे। जेपीएससी:संयुक्त सिविल सेवा परीक्षा के आवेदन के लिए अब 600 नहीं, लगेंगे मात्र 100 रुपये”

बता दें कि झामुमो ने विधानसभा चुनाव में परीक्षा शुल्क घटाने का ऐलान किया था, लेकिन जब जेपीएसएसी ने 252 पद के लिए विज्ञापन निकाला तो उसमें परीक्षा शुल्क 600 निर्धारित कर दिया। जिसके बाद झामुमो पर वादाखिलाफी का आरोप लग रहा था।

Jharkhand LIVE Staff

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You cannot copy content of this page