दिल्ली में प्रियंका गांधी से मिली अंबा, बोलीं- खनिज संपदा होने के बाद भी गरीब है झारखंड के लोग

दिल्ली में प्रियंका गांधी से मिली अंबा, बोलीं- खनिज संपदा होने के बाद भी गरीब है झारखंड के लोग

बड़कागांव से कांग्रेस विधायक अंबा प्रसाद ने दिल्ली मे कांग्रेस की महासचिव प्रियंका गांधी और शीर्ष नेताओं से मुलाकत की है। इस दौरान अंबा प्रसाद ने राज्य की कई समस्याओं से पार्टी आलाकमान को रूबरू कराया।

अंबा ने पार्टी के शीर्ष नेताओं को झारखण्ड के वस्तुस्थिति से अवगत कराते हुए कहा कि प्रदेश में तथा बड़कागांव मे अकूत खनिज संपदा होने के बाद भी आज हमारे झारखण्डवासी गरीबी और बेरोजगारी का दंश झेल रहे हैं। केंद्र सरकार एनटीपीसी, सीसीएल, बीसीसीएल सहित कई कंपनियों से कोयला एवम् अन्य खनिज संपदा का दोहन करा रही है।

अंबा प्रसाद ने कहा यहां के गरीबों पर पिछली सरकार ने लाठी तथा गोली चलाकर खेती लायक उपजाऊ जमीन लेकर खदानें बना कर खेती से वंचित कर दिया गया और उनको उचित मुआवजा और रोजगार तक नहीं दिलाया जिससे यहां के स्थानीय बेरोजगार और गरीब हो गए हैं। वर्तमान में केंद्र सरकार का कंपनियों पर इतना ज्यादा प्रभाव है कि कंपनियां भू रैयतों को रोजगार देने से साफ इंकार कर देती है। विधायक ने कहा कि कांग्रेस पार्टी आलाकमान इस विषय पर गंभीर है। उन्होने कहा कि तत्काल जो हमने चुनाव मे झारखण्ड के वासियों से वादा किया था, वहां के किसानों का कर्जा हमने माफ करने का वादा पूरा किया और बहुत जल्द हम झारखण्ड आकर झारखण्ड वासियों के समस्याओं का समाधान करेंगे।

प्रियंका गांधी से मिली अंबा प्रसाद

प्रियंका गांधी से मुलाकात के दौरान अंबा ने झारखंड की महिलाओं को सशक्त और सरकार के कामताज पर बात की। अंबा ने प्रियंका गांधी ने कहा झारखण्ड के सबसे आखरी महिला तक सरकार की योजनाओं का लाभ पहुँचाने के साथ साथ जो अति पिछड़े गांव मे रहकर जीविकोपार्जन करती हैं उनको भी रोजगार से जोड़कर उनका विकास करने पर राज्य सरकार को पहल पर झारखण्ड की महिलाओं को सशक्त करना है। हम इसके लिए प्रतिबद्ध हैं।

शिक्षा और स्वास्थ्य के क्षेत्र में भी आलाकमान से की चर्चा

अंबा प्रसाद ने कांग्रेस पार्टी के वरीय नेताओं से मिलकर कहा कि पूर्व की भाजपा सरकारों ने शिक्षा और स्वास्थ्य को तिलांजलि दी है। इस कारण हमारी सरकार को झारखण्ड राज्य में शिक्षा और स्वास्थ्य के क्षेत्र में विशेष जोर देना चाहिए। गुणवत्तापूर्ण तकनीकी शिक्षा को मजबूत बनाने कि दिशा तेजी से काम किया जा सकता है। उन्होंने बड़कागांव में तकनीकी शिक्षा संस्थान और सभी सुविधाओं से सुसज्जित अस्पताल बनाने की बात रखी।  

Jharkhand LIVE Staff

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You cannot copy content of this page