युवती को अगवा कर एक माह से दुष्कर्म कर रहा था उग्रवादी, पुलिस ने दो उग्रवादियों को किया गिरफ्तार, युवती को कराया मुक्त

युवती को अगवा कर एक माह से दुष्कर्म कर रहा था उग्रवादी, पुलिस ने दो उग्रवादियों को किया गिरफ्तार, युवती को कराया मुक्त

लातेहार पुलिस ने दो उग्रवादियों को गिरफ्तार किया है। इन उग्रवादियों के पास पुलिस ने एक युवती को भी बरामद किया है। इन लोगों ने उसे बंधक बनाकर रखा था, जिसे पुलिस ने मुक्त करा दिया है। युवती जिले के नेतरहाट की रहनेवाली है। फिलहाल पुलिस ने दोनों को जेल भेज दिया है।

दरअसल पुलिस को गुप्त सूचना मिली थी कि प्रतिबंधित संगठन झारखंड जनमुक्ति परिषद (जेजेएमपी) के दो उग्रवादी महुआडांड़ के अक्सी जंगल में घूम रहे हैं। इसी सूचना के अधार पर पुलिस इलाके में छापामारी की और दोनों उग्रवादियों को गिरफ्तार कर लिया। छापेमारी के दौरान पुलिस को एक लड़की भी मिली।

जानकारी के मुताबिक गिरफ्तार उग्रवादियों ने एक माह पहले इस युवती को अपहरण कर लाया था और इसे बंधक बनाकर अपने पास रखा था। उग्रवादी इसके साथ दुष्कर्म की घटना को अंजाम देते थे। पुलिस ने फिलहाल लड़की का बयान दर्ज करके उसे रिहा कर दिया है। वह नेतरहाट की रहनेवाली है। पुलिस ने जिन दो उग्रवादियों को गिरफ्तार किया है वो प्रतिबंधित संगठन झारखंड जनमुक्ति परिषद (जेजेएमपी) का एरिया कमांडर नसीम अंसारी और बासकरचा का राम प्रसाद लोहरा शामिल हैं। नसीम लातेहार जिले के फुलवार बगीचा का रहने वाला है।

आतंक का पर्याय बन चुका था नसीम, कई मामलों में थी तलाश

एसडीपीओ राजेश कुजूर ने बुधवार को बताया कि, महुआडांड़ क्षेत्र के एरिया कमांडर नसीम अंसारी लातेहार जिले के चार थाना क्षेत्र महुआडांड़, गारू, नेतरहाट एवं बारेंसाढ़ में आतंक मचा रखा था। गिरफ्तार उग्रवादियों द्वारा कई अपराधिक घटनाओं को अंजाम दिया गया है। इसमें मुख्य रूप से जंगसी चैनपुर में बन रहे 132/33 के.वी. का पावर ग्रिड में गाड़ी जलाने और फायरिंग करने, ग्राम तम्बोली की नाबालिग के साथ रेप करने के अलावे विकास योजनाओं का कार्य कर रहे ठेकेदारों और ईंट भट्टा मालिकों से जबरन रंगदारी वसूली शामिल है। साथ ही उन्होंने बताया कि, नेतरहाट थाना क्षेत्र स्थित ग्राम छगराही की रहने वाली एक युवती को एरिया कमांडर नसीम अंसारी द्वारा एक माह पूर्व अपहरण कर लिया गया था। वो लड़की को जबरन अपने साथ रख कर उसके साथ दुष्कर्म कर रहा था। लड़की के परिजनों द्वारा डर से इसकी सूचना पुलिस को नहीं दी गई थी। हालांकि पुलिस ने लड़की को बरामद कर लिया है।

रामप्रसाद के घर में थी मिनी गन फैक्ट्री, खुद बनाता था हथियार

वहीं पुलिस ने तलाशी में उनके पास से एक पिस्टल, 7.65 एमएम बोर की 7 गोलियां, पिठ्ठू, वर्दी, मोटरसाइकल बरामद किया है। जबकि गिरफ्तार उग्रवादी राम प्रसाद लोहरा की निशानदेही पर महुआडांड़ पुलिस ने मिनी गन फैक्टरी का भी खुलासा किया है। नसीम अंसारी दस्ते के लिए राम प्रसाद लोहरा अपने घर पर ही मिनी गन फैक्टरी लगा रखी थी। वह खुद हथियार बनाता था। पुलिस ने उसके घर से एक राइफल, दो बंदूक, एक बैरल गन, कई अर्धनिर्मित देसी पिस्तौल, बंदूक और देसी पिस्तौल बनाने की सामग्री व उपकरण जब्त किए हैं। इसके अलावा कई मोबाइल सेट भी बरामद किए हैं।

Jharkhand LIVE Staff

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You cannot copy content of this page