झारखंड: एक परिवार के 3 बच्चे नदी में बहे, दो सगे भाइयों का शव बरामद, बहन की तलाश जारी

झारखंड: एक परिवार के 3 बच्चे नदी में बहे, दो सगे भाइयों का शव बरामद, बहन की तलाश जारी

गुमला जिला मुख्यालय से करीब 80 किमी दूर स्थित बाघमुंडा जलप्रपात के पास पिकनिक मनाने गए एक ही परिवार के तीन बच्चे कोयल नदी की तेज धार में बह गए। इनमें से दो का शव रविवार रात में बरामद कर लिया गया और एक शव की तलाश जारी है।

जानकारी के मुताबिक रांची जिले के नामकुम स्थित महुआटोली से एक परिवार के लोग रविवार को पिकनिक मनाने के लिए बाघमुंडा जलप्रपात के पास गए थे। पिकनिक स्पॉट पहुंचने के बाद परिवार के बड़े सदस्य खाना बनाने की तैयारी में जुट गए और परिवार के 7 बच्चे नदी में बालू की रेत से बने टापू पर पर खेलने लगे। इसी दौरान नदी का जलस्तर बढ़ गया और सभी सात बच्चे बह गए।

इसी दौरान वहां पर मछली पकड़ रहे स्थानीय लोगों ने बच्चों को बहता देख नदी में छलांग लगा दी। चार बच्चे श्रेया एक्का, सजल एक्का व दो अन्य को सुरक्षित बाहर निकाल लिया। जबकि जेम्स केरकेट्टा का बेटा अंकित अर्पण एक्का 11 वर्ष,  जयकांत एक्का 15 वर्ष और जेम्स की बहन दीप्ति की छह साल की बेटी इशिका बह गई।

इसके बाद तीनों की तलाश शुरू की गई। रविवार शाम तक दोनों सगे भाई अर्पण एक्का और जयकांत एक्का का शव बरामद किया गया, जबकि दीप्ति का शव नहीं बरमाद हुआ। घटना की सूचना के बाद बसिया एसडीपीओ दीपक कुमार पुलिस बल के साथ बाघमुंडा पहुंचे। इसके बाद एनडीआरएफ की टीम को बुलाया गया, लेकिन शव नहीं मिला। रात होने की वजह से ये कार्य रोक दिया गया, लेकिन सोमवार सुबह में एक बार फिर से शव को खोजना का काम शुरू किया गया है। खबर लिखे जाने तक शव की बरामदी नहीं हुई है और एनडीआरएफ की टीम इशिका को खोजने में लगी हुई है।

परिवार के मुताबिक बच्चों की जिद्द पर ही वह पिकनिक मनाने के लिए गए थे, लेकिन ये हादसा ने परिवार को सदमे में डाल दिया है। नदी में बही इशिका के पिता गॉडविन तिग्गा आर्मी में हैं।

Jharkhand LIVE Staff

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You cannot copy content of this page