कांग्रेस के 9 विधायक हेमंत सरकार से नाराज, तीन MLA ने दिल्ली दरबार में लगाई हाजरी

कांग्रेस के 9 विधायक हेमंत सरकार से नाराज, तीन MLA ने दिल्ली दरबार में लगाई हाजरी

मध्यप्रदेश और राजस्थान के बाद झारखंड में भी कांग्रेसी विधायक सरकार के लिए मुसीबतें बढ़ा सकते हैं। सूत्रों के मुताबिक कांग्रेस के 9 विधायक सरकार और मंत्रियों के काम से नाखुश है। इनमें से तीन विधायक शिकायत लेकर दिल्ली भी पहुंचे और आलाकमान को आगाह किया।


मिली जानकारी के अनुसार कांग्रेस के राज्यसभा सांसद धीरज प्रसाद साहू की अगुवाई 9 में तीन नाराज विधायक इरफान अंसारी, उमाशंकर अकेला और राजेश कच्छप दिल्ली गए थे। यहां इन विधायकों ने सोनिया गांधी के राजनीतिक सलाहकार अहमद पटेल और पूर्व केंद्रीय मंत्री गुलाम नबी आजाद से की। हालांकि अब यह सभी विधायक झारखंड लौट चुके है, लेकिन कुछ भी बोलने से बच रहे हैं।

कांग्रेस विधायक क्यों नाराज है ?

सत्ता में शामिल इन विधायकों की नाराजगी है कि सरकार में इनकी सुनी नहीं जा रही है। कांग्रेस के खेमे के भी चारों मंत्री डॉ. रामेश्वर उरांव, आलमगीर आलम, बन्ना गुप्ता और बादल भी खास तवज्जो नहीं देते है। इन विधायकों का कहना है कि क्षेत्र में चल रहे विकास योजनाओं में उनके सुझाव की अनदेखी की जा रही है। जबकि कुछ विधायकों की इस बात को लेकर भी नाराजगी है कि अफसरों की ट्रांसफर पोस्टिंग उनकी पैरवी भी को भी दरकिनार कर दिया जा रहा है।

कांग्रेस विधायकों ने आलाकमान को किया आगाह

झारखंड लाइव को मिली जानकारी के अनुसार तीनों कांग्रेस विधायकों ने अहमद पटेल और गुलाम नबी आजाद से मुलाकात के दौरान उन्हें आगाह किया कि अगर स्थिति पर काबू नहीं पाया गया तो सरकार अस्थिर हो सकती है। इसके साथ ही इन विधायकों ने मंत्री के खाली पड़े एक पद को भी भरने की मांग की है।

कांग्रेस प्रदेश प्रभारी से भी नाराज़

कांग्रेस विधायकों की नाराजगी सरकार के कामकाज के अलावा पार्टी के प्रदेश प्रभारी आरपीन सिंह से भी हैं। इन विधायकों को ऐसा महसूस हो रहा है कि कांग्रेस प्रभारी ही सरकार और मंत्रियों पर दबाव बनाने की उनकी हर कोशिश को विफल कर दे रहे हैं।

Jharkhand LIVE Staff

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You cannot copy content of this page