BJP ने उठाए सवाल- सरकारी मेहमान राजकुमार तेजप्रताप को 60 गाड़ियों से आने की छूट और साक्षी महाराज को क्वारंटाइन

BJP ने उठाए सवाल- सरकारी मेहमान राजकुमार तेजप्रताप को 60 गाड़ियों से आने की छूट और साक्षी महाराज को क्वारंटाइन

यूपी के उन्नाव से बीजेपी सांसद को गिरिडीह में 14 दिनों के लिए क्वारंटाइन किया गया, लेकिन जिला प्रशासन की इस कार्रवाई पर झारखंड बीजेपी ने सवाल उठाए हैं। बीजेपी का कहना है कि सरकार सिर्फ विपक्ष के नेताओं को क्वारंटाइन कर रहा है, जब लालूयादव के पुत्र तेजप्रताप यादव रांची आए तो उन्हें क्यों नहीं 14 दिनों के लिए क्वारंटाइन किया गया।

बीजेपी नेता सुनील तिवारी ने ये हुई न बात? सांसद साक्षी महाराज को Quarantine और सरकारी मेहमान राजकुमार तेजप्रताप यादव को ६० गाड़ियों के क़ाफ़िले में पटना से बेरोक-टोक आने-जाने की छूट,रिम्स अस्पताल में उत्पात मचवाने, होटल में ठहर कर होटल मालिक को भी संकट में डालने जैसी आज़ादी।

वहीं बीजेपी के प्रदेश प्रवक्ता प्रतुल शाहदेव ने इस कार्रवाई की निंदा की। उन्होंने कहा लालू प्रसाद के पुत्र तेज प्रताप यादव के सामने घुटने टेकने वाली हेमंत सरकार ने साक्षी महाराज को क्वॉरेंटाइन करके अपना दोहरा मापदंड दिखा दिया। 2 दिनों तक तेज प्रताप और उनके समर्थकों का रांची में उत्पात मचता रहा लेकिन क्या मजाल सरकार और प्रशासन की कि कोई उन्हें रोक सके। औपचारिकता के लिए लॉकडाउन उल्लंघन का साधारण FIR कर दिया गया।तेज प्रताप के समर्थकों ने रिम्स में मरीज के परिजनों के साथ मारपीट भी की थी। रात के 2:30 बजे 60 गाड़ियों के काफिले के साथ वो अनधिकृत रूप से रांची घुस आए थे, लेकिन शासन-प्रशासन को उनको रोकने की हिम्मत नहीं हुई।

दरअसल बीजेपी सांसद साक्षी महाराज यूपी से सड़क के रास्ते शुक्रवार को गिरिडीह आए थे। यहां वो शांति भवन आश्रम में ठहरे हुए थे। शनिवार को वह सड़क के रास्ते गिरिडीह से धनबाद जा रहे थे। इसी दौरान प्रशासन ने उन्हें पीरटांड़ के पास बैरियर लगाकर रोक दिया। इसके बाद एसडीएम प्रेरणा दीक्षित ने उन्होंने 14 दिनों के लिए क्वारंटाइन में रहने का आदेश दे दिया। फिलहाल साक्षी महाराज को गिरिडीह के शांति भवन आश्रम में रखा गया है।

Jharkhand LIVE Staff

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You cannot copy content of this page