पूर्व DGP पर लगे आरोपों की जांच कर रही अधिकारी को बदला गया, अब इन्हें मिली जिम्मेदारी

पूर्व DGP पर लगे आरोपों की जांच कर रही अधिकारी को बदला गया, अब इन्हें मिली जिम्मेदारी

झारखंड के पूर्व डीजीपी डीके पांडेय और उनके परिवार पर लगे आरोपों की जांच कर रही है अनुसंधान पदाधिकारी स्नेहलता को बदल दिया गया है। उनको इस केस से छुट्टी कर दिया गया है, हालांकि इसके पीछे कोई कारण अब तक सामने नहीं है।

वहीं पूर्व डीजीपी पर लगे आरोपों की जांच के लिए अब जिम्मेदारी महिला थाना प्रभारी मोनालिसा केरकेट्टा को सौंपा गया है। मोनालिसा केरकेट्टा ने सोमवार को पूर्व डीजीपी डीके पांडेय के घर जाकर पूछताछ किया। बताया जा रहा है कि आगे भी अभी इस मामले में डीजीपी और उनकी पत्नी और बेटे से पूछताछ होगी।

क्या है पूरा मामला

पूर्व डीजीपी डीके पांडेय की बहू रेखा मिश्रा ने उनके उपर कई आरोप लगया था। इनमें यौन शोषण की कोशिश और दहेज उत्पीड़न शामिल है। रेखा ने इस मामले में रांची महिला थाना में पूर्व डीजीपी, उनकी पत्नी और बेटे के खिलाफ सेक्शन 498ए और 406 के तहत एफआईआर दर्ज करवाया है।

पहले ही हो चुका है तालाक

वहीं डीजीपी के परिवार ने जानकारी दी है कि रेखा और उनके बेटे शुभांकर के बीच तलाक हो चुका है। शुभांकर के वकील ने बताया कि तलाक पर अगस्त 2019 में ही रांची फैमिली कोर्ट से फैसला हुआ है।

पूर्व डीजीपी का विवादों से रहा है नाता

पूर्व डीजीपी डीके पांडेय कई मामलों को लेकर विवाद में भी रहे हैं। साल 2015 में पलामू के बकोरिया में 12 लोगों को नक्सली बताकर मुठभेड़ में मार दिया गया था। इस मुठभेड़ के बाद डीजीपी पर फर्ज एनकाउंटर का आरोप लगा था। अभी इस मामले की सीबीआई जांच चल रही है।

यह भी पढ़े: मेरे पति गे है, ससुर बनाना चाहते थे अवैध शारीरिक संबंध, जानिए बहू ने FIR में क्या कहा

यही नहीं पूर्व डीजीपी के खिलाफ फर्जी नकस्लियों को सरेंडर करने के भी आरोप लगे है। यह मामला अभी हाईकोर्ट में चल रहा है। इसके साथ ही रांची के कांके में पत्नी के नाम पर गैरमजरूआ जमीन की गलत तरीके से बंदोबस्ती कराके उसपर घर बनाने का भी आरोप लगा है। इस मामले की भी जांच चल रही है।

Jharkhand LIVE Staff

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You cannot copy content of this page