झारखंड: 24 घंटे में 12 लोगों ने मौत को लगाया गले, आखिर क्यों बढ़े रहे सुसाइड के केस

झारखंड: 24 घंटे में 12 लोगों ने मौत को लगाया गले, आखिर क्यों बढ़े रहे सुसाइड के केस

कोरोना काल में लोग अपनी जिंदगी से हार मान रहे है। यही वजह है कि आत्महत्या का मामला तेजी से बढ़ गया है। झारखंड में पिछले 24 घंटा में 12 लोगों ने आत्महत्या किया है। इनमें 6 लोग बेरोजगारी के वजह से अपनी जान दी है।

दैनिक भाष्कर में छपी रिपोर्ट के मुताबिक जिम 12 लोगों ने मौत की है। उनमें आठ पुरुष और 4 महिलाएं हैं। इनकी औसतन उम्र 20 साल से 25 साल की है। रिपोर्ट के मुताबिक इनमें 6 लोगों ने जान लॉकडाउन में काम नहीं मिलने और बेरोजगारी के कारण तनाव  में दिया है। जबकि 3 लोगों ने प्रेस प्रसंग में आत्महत्या किया है। बाकी लोगों ने भी किसी कारण पैदा हुए तनाव के वजह से सुसाइड किया है।

आत्महत्या करने वालों का नाम

जिन लोगों ने पिछले 24 घंटे में आत्महत्या किया है। उनमें कोडरमा के मनोज केसरी, हजारीबाग के बरकट्ठा निवासी हीरालाल शर्मा, धनबाद के रहने वाले गोपाल वर्मा, धनबाद के बोर्रागढ़ ओपी क्षेत्र में कोचिंग संचालक मुकेश कुमार, गिरिडीह के अनिल हांसदा, हजारीबाग के कारीडीह गांव की सुमन, गढ़वा के खरिहानी टोला निवासी सूरज भुइयां , पलामू के लादी गांव निवासी अकलू भुईयां, रांची के अड़की की नर्स गीता, जमशेदपुर के बागुनहातू बारीडीह के युवक संदीप चंद्र, चाईबासा के तमाड़बांध के मंगल सिंह गोप एंब तांतनगर की सुमित्रा तियू शामिल है।

तीन माह में 449 लोगों ने किया आत्महत्या

वहीं राज्य सरकार द्वारा जारी किए गए एक आँकड़ों के मुताबिक मार्च महीने से जून 25 तक 449 लोगों ने आत्महत्या किया है। झारखंड सरकार के रिपोर्ट बताते है कि राज्य में हर 4.50 घंटे में एक व्यक्ति खुदखुशी कर मौत के आगोश में जा रहा है।

यह भी पढ़े: झारखंड : लॉकडाउन के दौरान 449 लोगों ने किया आत्महत्या, हर 5 घंटे में एक सुसाइड की घटना

क्यों कर रहे हैं आत्महत्या

मौजूदा समय में लोगों के मन में सुस्त अर्थव्यवस्था, नौकरी खोने, बेरोजगारी के डर से असुरक्षा की भावना पैदा हो रही है। जिससे वे इस प्रकार की विभत्स कदम उठाने से भी नहीं हिचक रहे हैं।

(इन आंकड़ो में आज हुई किसी भी आत्महत्या को नहीं जोड़ा गया है)

Jharkhand LIVE Staff

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You cannot copy content of this page