SP को बिना सूचना दिए जिले में छापेमारी करेगी DGP की स्पेशल टीम, कोताही बरतने वाले अफसरों पर होगी कड़ी कार्रवाई

SP को बिना सूचना दिए जिले में छापेमारी करेगी DGP की स्पेशल टीम, कोताही बरतने वाले अफसरों पर होगी कड़ी कार्रवाई

झारखंड के डीजीपी एमवी राव नशे के खिलाफ मुहिम छेड़े हुए है। उनके निर्देश पर ही 1 नवंबर से पूरे राज्य भर में पुलिस अभियान चला रही है। पूरे अभियान पर डीजीपी के नेतृत्व में पुलिस मुख्यालय के वरीय अधिकारियों की टीम पैनी नजर रख रही है। जिसकी नतीजा है यह हुआ कि पिछले 17 दिनों में बड़ी मात्रा में अवैध शराब के धंधे करने वाले लोगों पर कार्रवाई हुई है।

डीजीपी ने इस मामले पर बयान देते हुए कहा कि एसपी के नेतृत्व में चलने वाला अभियान आगे भी जारी रहेगा, लेकिन अब पुलिस मुख्यालय की टीम अलग अलग जिलों में छापेमारी करेगी और इसकी जानकारी संबंधित जिला के एसपी या किसी अन्य अधिकारी को नहीं दी जाएगी।

पुलिस मुख्यालय की स्पेशल टीम को अगर किसी इलाके में अवैध शराब की खेप मिलती है तो तुरंत इसकी जांच होगी कि स्थानीय या जिला के किसी अफसर इसमें संलिप्तता तो नहीं हैं। अगर जांच में कोई पुलिस अफसर दोषी पाया गया तो उस अधिकारी के खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाई होगी।

डीजीपी ने बताया कि पुलिस अब इसके साथ ही अवैध हथियार रखने वालों के खिलाफ अभियान चलाएगी। ये अभियान हछ हफ्तों तक चलेगा। इस दौरान अवैध हथियार रखने वाले लोगों की पहचान कर कर्रवाई की जाएगी। डीजीपी ने कहा आमतौर पर नशा व अवैध हथियारों की बात सामने आती है, इसलिए हमारा उद्देश्य है कि राज्य से अवैध हथियार रखने व इसके कारोबार में शामिल लोगों को पूरी तरह से सफाया हो जाए।

वहीं डीजीपी ने मंगलवार को वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से सभी जिलों के एसपी व रेंज डीआइजी के साथ समीक्षा बैठक की। इस दौरान वे जिलों को पूर्व में विधि व्यवस्था, नक्सल, साइबर क्राइम सहित अन्य चीजों के लिए दिये गये टास्क के बारे में जानकारी ली।

Jharkhand LIVE Staff

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You cannot copy content of this page