अपराधियों को मार गिराए झारखंड पुलिस, कानूनी अड़चन आने पर हम देख लेंगे- DGP

अपराधियों को मार गिराए झारखंड पुलिस, कानूनी अड़चन आने पर हम देख लेंगे- DGP

झारखंड के डीजीपी एमवी राव गुरूवार को दुमका पहुंचे और पुलिस सभागार में जिले के बड़े अधिकारियों के साथ बैठक की। इस बैठक में डीजीपी ने अधिकारियों को कई निर्देश दिए। इसके बाद वह मीडिया से मुखातिब हुए और अपराधियों को सख्स लहजे में चेताया।

मीडिया से बात करते हुए डीजीपी ने कहा कि हमने पुलिस को अपराधियों से निपटने के लिए खुली छूट दी है। उन्होंने कहा कि “अवैध हथियार लेकर चलने वाले अपराधियों से अब कड़ाई से निबटा जाएगा। पहले पुलिस इस बात से डरती थी कि गोली चलाएंगे तो कानूनी परेशानियों का सामना करना होगा। अब यह सब सोचने की जरूरत नहीं है”।

डीजीपी एमवी राव ने कहा कानून को मानने वालों की सुरक्षा हमारा पहला दायित्व है। अपराधी पूजा करने के लिए हथियार लेकर नहीं चलते हैं। वे जान लेने के लिए ही हथियार निकालते हैं। गोली चलाते हैं। ऐसे लोगों को पुलिस मार गिराए। इसमें किसी तरह की कानूनी अड़चन नहीं आएगी। कानून भी इसकी इजाजत देता है। अगर कुछ होगा तो हम देख लेंगे। जनता की रक्षा के लिए हम पीछे नहीं हटेंगे”। 

अपराधी मुन्ना राय की पुलिस कर रही है तलाश

इसके साथ डीजीपी ने कहा कि दुमका में व्यापारियों से रंगदारी वसूलने वाला अपराधी मुन्ना राय की पुलिस तलाश कर रही है। जल्द ही वह पुलिस के पकड़ में होगा। उसने जिस भाषा का उपयोग किया है, उसी भाषा में पुलिस उसको जबाव देगी। इसके साथ ही डीजीपी ने कहा आम लोग किसी अपराधी या अपराध की शिकायत उनके मोबाइल नंबर 9431106363 पर कर सकते हैं। जानकारी देने वाले लोगों की पहचान गुप्त रखी जाएगी।

डीजीपी एमवी राव के सख्त रवैये से एक बात साफ है कि झारखंड पुलिस अब यूपी पुलिस के तर्ज पर “ठोक देंगे’ की कार्यशैली पर काम करेगी। बता दें कि झारखंड के डीजीपी एमवी अवैध शराब और अवैध अधियार के खिलाफ लगातार मुहिम छेड़े हुए है। उनके निर्देश पर पूरे झारखंड में पुलिस अभियान चला रही है। पुलिस मुख्यालय इस कार्रवाई पर नज़र बनाए हुआ है।

Jharkhand LIVE Staff

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You cannot copy content of this page