मासिक धर्म जागरुकता अभियान के तहत 9 जिलों की 8000 महिलाओं तक पहुंचा माही

मासिक धर्म जागरुकता अभियान के तहत 9 जिलों की 8000 महिलाओं तक पहुंचा माही

माही केयर फाउंडेशन (Mahi care foundation) की ओर से चलाया जा रहा है मासिक धर्म जागरुकता अभियान की समाप्ती 31 दिसंबर को कर दी गई है। 15 दिनों तक चले इस अभियान में संस्था की तरफ से करीब 8000 महिलाओं के बीच सैनिटरी नैपकिन का वितरण किया गया। साथ ही महिलाओं को मासिक धर्म को लेकर जागरुक भी किया गया।

मासिक धर्म जागरुकता अभियान की शुरूआत 15 दिसबंर को रांची के कांके रोड स्थित चंदवे बस्ती से मेयर आशा लकड़ा के द्वारा किया गया था। इसके बाद संस्था की ओर 15 दिनों तक राज्य के 9 जिलों के अलग अलग इलाकों में मासिक धर्म जागरुकता अभियान चलाया गया। इस दौरान संस्था 8000 महिलाओं तक पहुंची और उनके बीच निशुल्क सेनेटरी पैड का वितरण किया।

जिन जिलों में मासिक धर्म जागरुकता अभियान चलाया गया है। उनमें रांची, बोकारो, खूंटी, धनबाद, रामगढ़, जमशेदपुर, हजारीबाग, लोहरदगा और गुमला शामिल है।

माही केयर फाउंडेशन के निदेशक आषीश रंजन दीक्षित (ASHISH RANJAN DIXIT) ने बताया कि इस अभियान का मकसद महिलाओं को मासिक धर्म को लेकर जागरूक करना था। संस्था समय समय पर महिलाओं के स्वास्थ्य को ध्यान में रखकर इस प्रकार का अभियान चलाती रहती है।

वहीं संस्था की को-फाउंडर वंदना उपध्याय (vandana upadhyay) ने बताया कि माही केयर फाउंडेशन महिलाओं के स्वास्थ्य का पूरा ख्याल रखता है। इसलिए संस्था की ओर प्लास्टिक फ्री पैड बनवाया जाता है, ताकी इसके इस्तेमाल से महिलाओं को किसी प्रकार की बिमारी नहीं हो। इसके साथ ही संस्था सैनिटरी नैपकिन के जरिए महिलाओं को रोजगार भी मुहैया कराती है और अभी हमारे साथ करीब 60 हजार महिलाएं जुड़ी हुई हैं।

Jharkhand LIVE Staff

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You cannot copy content of this page