झारखंड: अलविदा जुमा की नामाज पढ़ने के लिए जमा हुए 100 लोग, पुलिस ने रोका तो कर दिया पथराव

झारखंड: अलविदा जुमा की नामाज पढ़ने के लिए जमा हुए 100 लोग, पुलिस ने रोका तो कर दिया पथराव

कोरोना संकट के वजह से देश में करीब दो महीने से लॉकडाउन लागू है। लॉकडाउन के दौरान सभी प्रकार की धार्मिक गतिविधियों पर रोक है। मस्जिदों में भी पांच लोगों से ज्यादा लोगों के नमाज पढ़ने की इजाजत नहीं है। इसके बावूजद झारखंड के बोकारो में अलविदा जुमा की नामाज पढ़ने के लिए करीब 100 लोग जमा हुए। पुलिस ने जानकारी मिलने पर रोका तो लोगों ने पथराव कर दिया।

घटना जिले के पिंड्राजोर थाना क्षेत्र स्थित नारायणपुर मस्जिद की है। बताया जा रहा कि अलविदा जुमे की नामाज पढ़ने के लिए करीब 100 लोग मस्जिद में जमा हुए थे। इस मामले की जानकारी जब गश्ती पर निकली पुलिस वैन को मिली। इसके बाद पुलिस ने मौके पर पहुंचकर लोगों को सामूहिक नामाज पढ़ने से रोक दिया।

इस बीच भीड़ में से कुछ लोगों ने पथराव कर दिया और फिर देखते ही देखते विरोध ने हिंसक रूप ले लिया। जिसके बाद मौके पर अतिरिक्त पुलिस बल को बुलाया गया। चास एसडीपीओ भगवान दास, सिटी डीएसपी ज्ञानरंजन, चास प्रखंड विकास पदाधिकारी संजय शांडिल्य और चास अंचल अधिकारी दिवाकर द्विवेदी दल बल के साथ मौके पर पहुंचे और मामले को शांत कराया।

इसके बाद सभी अधिकारियों ने ग्रामीणों के साथ बैठक कर लोगों से शांति बनाए रखने का आग्रह किया। फिलहाल हालात शांतिपूर्ण है।

वहीं ग्रामीणों का कहना है कि मस्जिद में नमाज पढ़ने से रोकने के दौरान पुलिस ने कुछ युवकों के साथ मारपीट की। इसी कारण कुछ युवक उग्र हो गए थे।

हालांकि पुलिस अधिकारियों ने इस मामले में कार्रवाई की बात कही है। इस मामले को लेकर पिंड्राजोरा थाना में केस दर्ज किया जा रहा है। पुलिस का कहना है कि असामाजिक तत्वों की पहचानकर उनके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी।

Jharkhand LIVE Staff

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You cannot copy content of this page