जेल से बाहर आएंगे RJD अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव, हाईकोर्ट से मिली जमानत

जेल से बाहर आएंगे RJD अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव, हाईकोर्ट से मिली जमानत

राजद अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव को दुमका कोषागार से करोड़ों रुपये की अवैध निकासी के मामले में हाईकोर्ट से जमानत मिल गई है। कोर्ट ने उन्हें एक लाख रुपए का मुचलका और 10 लाख रुपए जुर्माना पर रिहा करने का आदेश दिया है। लालू यादव अब बेल बॉन्ड भरने के बाद एक-दो दिन में जेल से बाहर आ जाएंगे।

जमानत देने के दौरान हाईकोर्ट ने कहा है कि लालू प्रसाद यादव देश से बाहर नहीं जाएंगे। देश से बाहर जाने से पहले उन्हें कोर्ट से अनुमति लेनी होगी। इसके साथ ही वह अपना मोबाइल नंबर और अपना पता नहीं बदलेंगे।

लालू यादव को दुमका कोषागार मामले में 7-7 साल की सजा मिली थी। लालू यादव ने इसकी आधी अवधी पूरी कर ली थी। इसी को आधार बनाकर लालू यादव ने हाईकोर्ट में जमानत की याचिका डाली थी। इस पर ही सुनवाई करते हुए हाईकोर्ट ने उन्हें जमानत देने का फैसला किया।

सुनवाई के दौरान जस्टिस अप्रेश सिंह ने कहा कि लालू यादव ने 42 महीने 11 दिन जेल में गुजार चुके हैं। यह आधी सजा से ज्यादा का समय है, इसलिए लालू यादव को इस मामले में जमानत दी जाती है। वह एक-एक लाख के दो सिक्योरिटी बॉन्ड और आईपीसी और पीसी एक्ट के तहत पांच-पांच लाख का जुर्माना भरने के बाद जेल से बाहर आ सकेंगे,  हालांकि सीबीआई ने कोर्ट में उनकी जमानत याचिका का विरोध किया है।

डोरंडा कोषागार मामले में चल रही है सुनवाई

लालू यादव के खिलाफ चारा घोटाले के कुल पांच मामले चल रहे है। इनमें से चार मामलों में उन्हें सीबीआई कोर्ट द्वारा सजा हो चुकी है। इनमें से तीन मामलों में लालू यादव को पहले ही जमानत मिल चुकी थी और अब चौथे मामले में भी जमानत मिल गई है। वहीं पांचवा मामला डोरंडा कोषागार से जुड़ा हुआ है, जिस पर कोर्ट में सुनवाई चल रही है, लेकिन कोविड के कारण फिलहाल CBI कोर्ट में उस मामले की सुनवाई पर रोक लगा दी गई है।

चारा घोटला के चौथे मामले में लालू यादव को हाईकोर्ट से जमानत मिलने के बाद अब उनके जेल से बाहर आने का रास्ता साफ हो गया है। लालू यादव अब जेल से बाहर आ सकते हैं। वह देवघर कोषागार मामले में सजा होने के बाद 23 दिसंबर 2017 से जेल में बंद है। फिलहाल वह एम्स दिल्ली में इलाजरत हैं। लगभग ढाई साल रिम्स रांची में इलाज कराने के बाद जनवरी में उनकी तबीयत अचानक बिगड़ गई थी। सीने में दर्द और सांस लेने में परेशानी के कारण उन्हें 23 जनवरी 2021 को रिम्स से एम्स रेफर किया गया था।

राजद में खुशी की लहर

उधर लालू यादव के जमानत मिलने की खबर सामने आने के बाद राजद खेमे में खुशी की लहर है। पटना सहित बिहार के कई जिलों में राजद के कार्याकर्ता अतिशबाजी कर रहे हैं और एक दूसरे को मिठाई खिलाकर अपने नेता की रिहाई का जश्न मना रहे हैं।

Jharkhand LIVE Staff

0 thoughts on “जेल से बाहर आएंगे RJD अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव, हाईकोर्ट से मिली जमानत

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You cannot copy content of this page