अर्णब की गिरफ्तारी पर बोले दीपक प्रकाश- लोकतंत्र पर हमले वहीं जहाँ कांग्रेस या कांग्रेस समर्थित सरकार

अर्णब की गिरफ्तारी पर बोले दीपक प्रकाश- लोकतंत्र पर हमले वहीं जहाँ कांग्रेस या कांग्रेस समर्थित सरकार

भाजपा प्रदेश अध्यक्ष एवम सांसद दीपक प्रकाश ने अर्णव गोस्वामी की गिरफ्तारी ,झारखंड में पत्रकारों पर हो रहे हमले,भेजे जा रहे नोटिस को लेकर राज्य सरकार और कांग्रेस पर कड़ा हमला बोला।

प्रदेश कार्यालय में प्रेसवार्ता को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि कांग्रेस का मतलब काला कारनामा। कहा कि लोकतंत्र बनाम कांग्रेस की बात करें तो आजादी के बाद से ही कांग्रेस ने चाहा कि प्रेस उसका पिछलग्गू बनकर दुम हिलाए। परंतु प्रेस ने लगातार कांग्रेस की गलत नीतियों का विरोध किया तो उसके ऊपर हमले हुए,प्रेस की स्वतंत्रता को कुचलने की कोशिश की गई।

उन्होंने कहा कि आजाद भारत मे 1962 के
चीनी आक्रमण में तत्कालीन रक्षा मंत्री कृष्ण मेनन के खिलाफ लिखने पर प्रेस पर कार्रवाई की।1975 में राहुल गांधी की दादी और तत्कालीन प्रधानमंत्री श्रीमती इंदिरा गांधी ने लोकतंत्र को खतरे में नही डाला बल्कि खत्म करने की कोशिश की। प्रेस और अभिव्यक्ति की आजादी को प्रतिबंधित किया। 1982 में संयुक्त बिहार के समय तत्कालीन मुख्यमंत्री डॉ जगन्नाथ मिश्र द्वारा लाये गए बिहार प्रेस बिल ने पत्रकारों के लिये 5 साल की सजा और जुर्माने का प्रावधान किया था। जो सरकार की नीतियों और उनके भ्रष्टाचार के खिलाफ कलम चलाते थे।

दीपक प्रकाश ने कहा कि लोकतंत्र या लोकतांत्रिक मूल्यों को समाप्त करने की कोशिश वहीं हुई है जहां जहां कांग्रेस की या कांग्रेस समर्थित सरकार बनी है। कांग्रेस ने लोकतांत्रिक संस्थानों को नष्ट करने का काम किया। न्यायपालिका, प्रेस और संसद को अपने हिसाब से चलाने की कोशिश की।1975 में तो कांग्रेस पार्टी ने अपने हिसाब से कानून बना लिये।

उन्होंने कहा कि आज झारखंड भी इसी राह पर चल रहा क्योंकि यहां भी कांग्रेस के समर्थन से सरकार चल रही।
आज मुख्यमंत्री श्री हेमन्त सोरेन,राज्य सरकार के मंत्री और कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष श्री रामेश्वर उरांव जी चुप क्यों हैं? राज्य की सवा तीन करोड़ जनता अर्णब गोस्वामी की गिरफ्तारी पर उनकी राय जानना चाहती है। जनता जानना चाहती है कि दुमका में सरकार के खिलाफ लिखने वाले पत्रकारों को नोटिस क्यों भेजा जा रहा,क्यों झारखंड में पत्रकारों पर हो रहे हमले पर कांग्रेस झामुमो के नेता चुप हैं ?

BJP प्रदेश ने कहा कि चुप्पी तोड़कर कार्रवाई को सही या गलत कुछ तो बोलें। उन्होंने कहा कि कांग्रेस सरकार द्वारा पत्रकारों एवम प्रेस की स्वतंत्रता पर हो रहे हमले का प्रदेश भाजपा कड़ा विरोध करती है,हम ऐसी कार्रवाई की तीब्र निंदा करते हैं। अर्णव गोस्वामी की गिरफ्तारी में आपातकाल का इतिहास दुहराया गया है।

Jharkhand LIVE Staff

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You cannot copy content of this page